धीरज का अभाव (चिडचिडापन)
प्र : आपलोग हर चीज को मानसिक रोग बनाने पर क्यों तुले है ? क्या आप ये कह रहे हैं कि मेरे पति जो स्वभाव से बहुत चिडचिडे है, एक मानसिक रोगी है.

Ø  जी नहीं, हम ये नहीं कह रहे हैं कि सभी लोग जो चिडचिडे हैं, वे मानसिक रोगी है. बल्कि हम ये कह रहे हैं कि चिडचिडापन कई मानसिक रोगों का एक लक्षण हो सकता है.


प्र : ठीक है, फिर ये बताएँ कि कौन-कौन सी मानसिक बिमारियों में आदमी चिडचिडा हो जाता है ?

Ø  वैसी कई अवस्थाएँ है : उन्माद, अवसाद या जब व्यक्ति बिना किसी मानसिक रोग के तनाव में रहता है. उन्माद और अवसाद एक दूसरे से विपरीत अवस्था है. लेकिन दोनों में चिडचिडापन देखा जा सकता है, खासकर युवा लोगों में.


प्र : क्या आप अब ये कह रहे हैं कि मेरा पंद्रह साल का लड़का जो मुझसे चिडचिडा रहता है, उसे अवसाद है ?

Ø  जी नहीं हम ये नहीं कह रहे हैं कि सभी बच्चे जो अपने माँ-बाप के साथ चिडचिडे रहते है, उन्हें अवसाद है. हम सभी जानते हैं कि किशोरों का अपने माता-पिता के साथ कैसा व्यवहार होता है. पर कुछ बच्चों और किशोरों में अवसाद की अभिव्यक्ति चिडचिडेपन के रूप में होती है.

Ø  उन्माद के शुरुआती लक्षणों में भी चिडचिडापन हो सकता है.